Problems and Solutions

Flex Banner Design और प्रिंट बिजनेस।

Flex Banner Printing Business

दोस्तो, आज कल प्रिंटिंग बिजन पूरी तरह ट्रेंडिंग बिजनेस है। अगर आप प्रिंटिंग की दुनियां में अपना पहचान बनाना चाहते है तो डिजाइनर्डेन आपके साथ है। आज इस रचना में हम आपको प्रिंटिंग बिजनेस में flex printing aur flex डिजाइन के बारे में बताएंगे। जब हम कभी भी कोई ग्राफिक या टाइपोग्राफी को किसी कागज या प्लास्टिक या अन्य किसी भी मीडिया में छापते है तो उसको प्रिंटिंग करना कहते है। इसके लिए हम प्रिंटर जैसे मशीन को इस्तेमाल में लाते है।

अब बात आता है प्रिंटिंग बिजनेस का तो जब हम प्रोफेशनल तरीके से इस काम को करने लगते है तो इसे प्रिंटिंग बिजनेस के रूप में लेते है। प्रिंटिंग कोई छोटी सी बिजनेस नहीं बल्कि इसमें और भी कैटेगरी है। जैसे :-

  • शादी कार्ड प्रिंटिग
  • स्टैंप प्रिंटिंन (स्टैंप मेकिंग)
  • I card printing
  • विजिटिंग कार्ड प्रिंटिग
  • फ्लेक्स बैनर प्रिंटिंग
  • टी शर्ट पप्रिंटिंग 

और भी अन्य बहुत सारी प्रिंटिंग की फील्ड है। दोस्तों, ऑल इन वन प्रिंटिंग प्रेस भी हो सकता है जिसमे सभी प्रिंटिंग का सेवा दिया जा सकता है। और कई लोग अपने अकॉर्डिंग इसे चुनते है। यहां तक कि समाचार पत्र भी प्रिंट किया जाता है जिसे प्रिंटिंग प्रेस कहते है लेकिन आज कल किसी भी प्रिंटिंग दुकान को प्रिंटिंग प्रेस ही कहते है।

क्या है फ्लेक्स बैनर प्रिंटिंग?

अगर बात करे फ्लेक्स और बैनर का तो दोनो में एक अंतर है। बैनर सामान्य रूप से PVC material par छपाई किया जाता है और इसका उपयोग घर के बाहर इस्तेमाल होने वाले शीट पर किया जाता है। इसको हमलोग फ्रंटलिट भी कहते है।

अगर बैकलिट का बात करें तो मुख्य रूप से फ्लेक्स के बारे में माना जाता है जिसका इस्तेमाल घर के अंदर किया जाता है। 

.

फ्लेक्स बैनर का क्या इस्तेमाल है?

किसी भी प्रोडक्ट या बिजनेस का प्रमोशन को असरदार ढंग से करने के लिए फ्लेक्स बैनर एक बेहतरीन विकल्प है। यहां तक कि चुनाव प्रचार के लिए भी बड़े बड़े पॉलिटिकल पार्टी फ्लेक्स बैनर को उचित मानते हैं। छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी इवेंट के लिए फ्लेक्स बैनर का इस्तेमाल किया जाता है। धार्मिक ज्ञान यज्ञ बैनर से लेकर शादी विवाह का बैनर के लिए भी लोग फ्लेक्स बैनर बनवाते है।

फ्लेक्स प्रिंटिंग प्रेस से कितना कमाई हो सकता है?

ये सवाल थोड़ा जटिल है। इसमें लागत ज्यादा है और साथ में स्किल्ड मेहनत भी इसलिए इसके कंपटीशन कम है। इस बिजनेस में एक मीडिया भी कम से कम 150 रुपया में बनता है और अक्सर लोग अच्छे क्वालिटी का मीडिया में प्रिंट लेते है तो 300 रुपया का एक बैनर समझ सकते है। इस प्रकार दिन भर में कम से कम 50 बैनर भी प्रिंट होता है तो 15000 एक दिन में आएगा जिसमे मुस्किल से 2000 का भी लागत नही होगा। जो भी है लेबर cost aur आपके महंगे मशीनें।

अगर आप सिर्फ डिजाइन करते हो और प्रिंटिंग कहीं दूसरे जगह से करते हो तो ऐसे में आपके पास कम पैसे बचेंगे लेकिन बचेंगे जरूर। मतलब इस बिजनेस के लिए जरूरी नहीं है की मशीनरी हो। आपके पास अगर सही कॉन्टैक्ट है और आप डिजाइन करने में निपुण हो तो आप आसानी से फ्लेक्स प्रिंट वर्क कर सकते हो। अगर आपको थोड़ा भी डिजाइन करना आता है तो ये काम आप कर सकते हो लेकिन डिजाइन करने में बहुत समय जाता है इसलिए बेहतर होगा की आप designerden की वेबसाइट से डिजाइन लेकर उसे इस्तेमाल पर लें।

बैनर डिजाइन कैसे करे?

डिजाईन बहुत ही जरूरी है किसी भी तरह का प्रिंटिंग प्रेस चलाने के लिए। अगर आप किसी नजदीकी इंस्टीट्यूट से ग्राफिक डिजाइन सीख लेते है तो आपके लिए किसी भी तरह हो बैनर पोस्टर डिजाइन करना आसान हो जायेगा। अगर ऑनलाइन भी आप ग्राफिक डिजाइन को सीखना चाहेंगे तो आसानी से सीख सकते हैं। आप हमारे यूट्यूब चैनल से जुड़ कर ग्राफिक डिजाइन का बेसिक को सिख सकते है। बैनर या कोई भी ग्राफिक पोस्टर को डिजाइन करने के लिए आपके पास प्रोफेशनल कंप्यूटर होना चाहिए।

CorelDRAW एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिसे प्रिंटिंग प्रेस में विस्तार रूप से इस्तेमाल में लाया जाता है।

जी आपने बिलकुल सही सुना कि Coreldraw एक ऐसा वेक्टर ग्राफिक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है जिसे छपा खाना यानी की प्रिंटिंग प्रेस में बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है और इसे सीखना भी बहुत आसान है। कोरेल्ड्रा में आप शादी कार्ड डिजाइन, फ्लेक्स बैनर डिजाइन, t shirt डिजाइन, logo डिजाइन, id कार्ड का डिजाइन, कैलीग्राफी और भी अन्य कई ग्राफिक डिजाइन करना आसान होता है। खास बात यह है कि corelDraw एक वेक्टर ग्राफिक सॉफ्टवेयर है। यह सॉफ्टवेयर फाइल्स को CDR फॉर्मेट में save करता है।

फ्लेक्स बैनर cdr file download कहां से करें?

अक्सर हम सोचते है की जो भी प्रिंट करना है उसे हमे खुद से बनाना पड़ेगा लेकिन ऐसा भी तो हो सकता है कि हम एक प्रोफेशनल ग्राफिक डिजाइनर को रख लें इस काम के लिए। लेकिन दिक्कत ये है की उनका चार्ज बहुत ज्यादा होता है तो ऐसे में हमारे सामने designerden एक बेहतरीन विकल्प है। यहां हमे कई सारे एडिटेबल cdr file mil jata hai वो भी बहुत ज्यादा सस्ता में। प्रोफेशनल ग्राफिक डिजाइनर के द्वारा फिनिश किया गया डिजाइन जिसे आप अगर 10 मिनट और काम कर दो तो डिजाइन में चार चांद लग जायेगा।

ग्राफिक डिजाइन टेम्पलेट से आपका मेहनत और समय दोनो ही बचेगा।

फ्लेक्स बैनर प्रिंट में इस्तेमाल होने वाला मीडिया

भले ही कलर एक जैसा हो लेकिन मीडिया अगर अच्छा हो तो प्रिंट उसपर निकर कर आएगा। फ्लेक्स किसी पेपर में तो प्रिंट नही होता है लेकिन प्लास्टिक टाइप मैटेरियल होता है। 

  • नॉर्मल फ्लेक्स
  • Semi Star
  • Star
  • Backlit

दोस्तों इसमें अन्य प्रिंटिंग मीडिया भी हो सकता है लेकिन मुझे अभी यही तक पता है। दो तरह का फ्लेक्स प्रिंटिंग मैटेरियल सबसे ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाता है, एक तो नॉर्मल फ्लेक्स और दूसरा स्टार फ्लेक्स।

एक मामले में फ्लेक्स को इसलिए भी अच्छा माना जाया है की ये मजबूत होता है और लंबे समय तक टिकाऊ होता है।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिजनेस का भविष्य

यहां तक हमने देखा की फ्लेक्स प्रिंटिंग बिजनेस में खर्च, लागत, टाइम सब मिलकर ये एक फायदेमंद व्यापार है। इसके लिए हमारे पास अगर प्रिंटिंग मशीन नही भी है तो भी कंप्यूटर और स्किल के मदद से पैसे बनाए जा सकते है। फ्लेक्स प्रिंटिंग का भविष्य देखा जाए तो अच्छा है क्योंकि अब तो शादी में में फ्लेक्स का डिमांड हो रहा है।

author-avatar

About Vishal Kumar

Hi I am Vishal. I have started my Journey as graphic designer and now I am a web developer as well as graphic designer. I look myself as a Youtuber. I spent a lot of time on making YouTube videos. For business enquiry don't forget to contact me.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *